Navratri 2021 Durga Maa – Durga Chalisa Lyrics

Durga Chalisa And Aarti: आज से चैत्र नवरात्रि का प्रारंभ हो रहा है। आज से नौ दिनों तक मां दुर्गा के नौ स्वरुपों की आराधना की जाएगी। चैत्र नवरात्रि के समय में आपको दुर्गा चालीसा का पाठ करना चाहिए और पूजा के अंत में मां दुर्गा की आरती नियमित तौर पर करनी चाहिए। दुर्गा चालीसा में मां दुर्गा के पराक्रम, साहस और स्वरुप का गुणगान किया गया है। पूजा में जो भी कमियां रहती हैं, उसको आरती से पूर्ण किया जाता है, इसलिए पूजा के बाद मां दुर्गा की आरती करनी चाहिए। जागरण अध्यात्म में आज हम आपको दुर्गा चालीसा और मां दुर्गा की आरती के बारे में बता रहे हैं, नवरात्रि में आप इसे पढ़ें।

दुर्गा चालीसा

नमो नमो दुर्गे सुख करनी। नमो नमो दुर्गे दुःख हरनी॥

निरंकार है ज्योति तुम्हारी। तिहूं लोक फैली उजियारी॥

शशि ललाट मुख महाविशाला। नेत्र लाल भृकुटि विकराला॥

रूप मातु को अधिक सुहावे। दरश करत जन अति सुख पावे॥

तुम संसार शक्ति लै कीना। पालन हेतु अन्न-धन दीना॥

अन्नपूर्णा हुई जग पाला। तुम ही आदि सुन्दरी बाला॥

प्रलयकाल सब नाशन हारी। तुम गौरी शिवशंकर प्यारी॥

शिव योगी तुम्हरे गुण गावें। ब्रह्मा-विष्णु तुम्हें नित ध्यावें॥

रूप सरस्वती को तुम धारा। दे सुबुद्धि ऋषि मुनिन उबारा॥

धरयो रूप नरसिंह को अम्बा। परगट भई फाड़कर खम्बा॥

रक्षा करि प्रह्लाद बचायो। हिरण्याक्ष को स्वर्ग पठायो॥

Durga Chalisa Song Detail
Title: Durga Chalisa
Singer: Varsha Shrivastava
Music: Vijay Nanda
Video: Milan
Label: Saga Music
Digitally Managed By: Unisys